Friday, 16 December 2016

Sad Shayari | Dard Shayari 2017

#कशिश तो #बहुत है मेरे #प्यार मैं,
लेकिन #कोई है पत्थर दिल जो #पिघलाता नहीं,
#अगर मिले खुद तो #माँगूंगी उसको,
सुना है #ख़ुदा मरने से पहले #मिलते नहीं.
#Kashish toh #bahut hai mere #pyar mai,
Lekin #koi hai pathar dil jo pigalta #nahi,
#Agar mile khuda to #mangungi usko,
Suna #hai khuda marne se #pehle milte nahi.

No comments:

Post a Comment